बाहर से आने के बाद कोरोना के इस दौर में कुछ इस तरह करे कपड़ों को Sanitize

देश और दुनिया में कोरोना महामारी (Corona epidemic) का बढ़ता संक्रमण  ( Spread of  Infection) रुकने का नाम नहीं ले रहा है। कोरोना से संक्रमित हुए लोगों (Corona Infected People) के बढ़ते आकंड़ो (Figure) को देख हर कोई डर के माहौल में जी रहा है। कोरोना से संक्रमित लोगों के आंकडे देश में आए दिन रिकार्ड तोड़ (Breaking Records) रहे है। ना सिर्फ कोरोना वायरस (Corona Virus) से संक्रमित लोगों की संख्या बढ़ रही है, बल्कि कोरोनावायरस से जान गवाने वाले लोगों के आंकड़ों में भी इजाफा देखने को मिल रहा है। बढ़ते संक्रमण को देखते हुए भारत (India) के कई राज्यों में इससे बचाव के लिए और संक्रमण को रोकने के लिए लॉकडाउन (Lockdown) लगाया गया है। शासन प्रशासन लगातार ही लोगों से कोरोनावायरस के रोकथाम (Coronavirus prevention) के लिए बनाई गई गाइडलाइंस (Guidelines) का पालन करने के लिए अपील कर रही है, जिसमें सोशल डिस्टेंसिंग (Social Distancing), मास्क (Mask) पहने रखना, हाथों को टाइम टाइम पर सैनिटाइज (Sanitize) करना बताया जा रहा है। संक्रमण के इस दौर में सभी चीजों के साथ कपड़ों को सैनिटाइज (Sanitizing Clothes) करना बहुत ही आवश्यक है। दरअसल कीटाणु (Germs) कपड़े के माध्यम से भी आपके घर प्रवेश कर सकते हैं। कपड़े कीटाणु के लिए घर बन सकते हैं, कीटाणु कपड़ों में अपना घर ना बनाएं इसके लिए कुछ तरीकों के जरिए कपड़ों को सैनिटाइज (Sanitize) करना बहुत जरूरी है, जिससे कपड़े जर्मस फ्री (Germs Free) हो सके। हम आपको कुछ ऐसे टिप्स देने जा रहे हैं जिसके जरिए आप आसानी से अपने कपड़ों को सैनिटाइज कर सकते हैं।

इसे भी पढें-  Corona Virus: क्या Weekend Lockdown और Night Curfew का सुझाव सही है?

बाहर के कपड़ो को मल्टी यूज हाइजीन लिक्विड या फिर एंटीसेप्टिक लिक्विड में भिगों कर रखें

जब भी आप बाहर से आए तो एक बात का ध्यान जरूर रखें कि बाहर से आने के बाद तुरंत कपड़ों को उतार कर एक अलग बाल्टी में रख दें। बाहर पहने गए कपड़ों को उन कपड़ों के साथ बिल्कुल ना मिलाये जो जर्मस फ्री हैं। एक बाल्टी में पानी भरकर उसमें मल्टी यूज हाइजीन लिक्विड (Multi use hygiene liquid) या फिर एंटीसेप्टिक लिक्विड (Antiseptic Liquid) डाल दें और उसमें कपड़ों को भिगोकर रख दें, इससे यह फायदा होगा कि कपड़ों में लगे हुए कीटाणु (Germs) दूसरे कपड़ों से कम्युनिकेट नहीं कर पाएंगे।

कपड़ों को धोने के लिए करें गर्म पानी का उपयोग

बाहर पहने गए कपड़ों को धोने के लिए ना सिर्फ सर्दी के मौसम (Winters) में बल्कि गर्मी के मौसम (Summer Season) में भी गर्म पानी का इस्तेमाल करें। ध्यान रखें पानी का टेंपरेचर 50 से 60 डिग्री तक होना चाहिए। गरम पानी कपड़ों से बैक्टीरिया (Bacteria) को खत्म करने का काम करता है, इसके साथ ही कपड़े अच्छे से साफ भी हो जाते हैं। अगर आपके पास वाशिंग मशीन (Washing Machine) है और उसमें वॉटर टेंपरेचर सिलेक्ट करने का ऑप्शन है तो उसका उपयोग करके भी आप अपने कपड़े को धो सकते हैं।

ऐसे करें कपड़े धोने के लिए केमिकल डिस्इंफेक्टेंट (Chemical Disinfectant) का इस्तेमाल

कोरोनावायरस के इस दौर में कपड़े धोने के वक्त इस बात का ध्यान रखें कि आप केमिकल डिस्इंफेक्टेंट (Chemical Disinfectants) का इस्तेमाल करना ना भूलें, दरअसल इसमें ब्लीच (Bleech) पाया जाता है, जो कपड़े के लिए बहुत उपयोगी माना जाता है। केमिकल डिसइनफेक्टेंट (Chemical Disinfectants) को सीधा कपड़ों में मिलाने से अच्छा है कि इसे डिटर्जेंट के साथ मिलाया जाए। यदि आप बाल्टी में कपड़े धो रहे हैं तो केमिकल डिसइनफेक्टेंट को एक मग में डिटर्जेंट (Detergent) के साथ मिला ले और फिर एक बाल्टी में पानी लेकर उसमें इस मिक्सचर को डाल दें इसके बाद कपड़ों को इस में भिगो दें।

ऐसें करे कपड़े धोने के बाद वॉशिंग मशीन को डिसइनफेक्ट 

अगर आप वॉशिंग मशीन का इस्तेमाल कपड़े धोने के लिए करते हैं तो ध्यान रखे कि कोरोनावायरस काल (Corona Virus Period) में कपड़ों को धोने के बाद वॉशिंग मशीन को अच्छे से डिसइनफेक्ट किया जाए। कपड़े धोने के बाद एक दूसरे कपड़े को एंटीसेप्टिक लिक्विड (Antiseptic Liquid) या फिर केमिकल डिसइनफेक्टेंट (Chemical Disinfactants) में भीगा दे और फिर उसी कपड़े से पूरी मशीन को साफ कर ले। वहीं एक अन्य कपड़ा ले जिसे सादे पानी में भिगो दें और फिर उस कपड़े से मशीन की दोबारा सफाई करें। वहीं अगर बाल्टी का उपयोग किया गया है तो उसे पाउडर डिटर्जेंट या लिक्वड की मदद से अच्छी तरह से धो लें इसके साथ ही मग और कपड़े धोने वाले ब्रश को भी अच्छी तरह से साफ करना जरुरी है।.

इसे भी पढें-   Coronavirus: दूसरी लहर बच्चों के लिए ज्यादा खतरनाक, जानें इसके लक्षण और बचाव

कपड़ो को अच्छे से सूखना है जरूरी, जरा सी नमी बन सकती है खतरा

वही कपड़ों को धोने के बाद उससे सारी नमी (Moisture) दूर करने के लिए उन्हें अच्छी तरह से धूप में सुखा दे। अगर मशीन में कपड़े सुखा रहे हैं तो ड्रायर का यूज़ करते हुए कपड़ों को 2 मिनट तक कम से कम स्पिन (Spin) होने दें। कपड़ों को ड्रायर में सुखाने के बाद इन्हें धूप जरूर दिखा दें और उन्हें अच्छे से सूखने दें। यदि कपड़ों को हाथों से धोया है तो इसे अच्छी तरह से निचोड़ लें और धूप में सुखा दें। कपड़े जब तक पूरी तरह से ना सूख जाए इन्हें फोल्ड करके अलमारी में रखने की गलती ना करें, क्योंकि कपडों में जरा सी भी नमी इन्हें जर्मस का घर बना सकती है।

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *