Diet In Arthritis: गठिया में किन बातो पर ध्यान देना चाहिए || गठिया के रोगियों को क्या खाना चाहिए

Arthritis जोङो में होने वाली बीमारी है। इसे गठिया के नाम से भी जानते है। जो Uric Acid के बढने के कारण एवं खानपान या फिर खराब जीवन शैली के वजह से होता है। इसमें Uric Acid के crystals जोङों में जमा होने लगते है, शुरूआत पैर के उंगलियों के जोङो से होती है, जिसमें बहुत दर्द होता है और धीरे धीरे Uric Acid के crystals शरीर के दूसरे जोङो तक पहुँचने लगते है। फिर दर्द बढता हुआ कोहनी, घुटने एवं उंगलियों के जोङो तक पहुँच जाता है। इसमें इतना दर्द होता है की उंगलियां बिल्कुल भी नहीं मुङ पाती है और कलाइयों मे भी सूजन आ जाती है।

यदि आप Arthritis के बारे में और जानना चाहते है तो यह आर्टिकल आपके लिए काफी मददगार होगा। चलिए Arthritis के बारे में और detail में जानते है।

इसे भी पढें-   क्या आप चाहते है Depression से मुक्त होना ? इन टिप्स के सहारे डिप्रेशन को करे दूर

 गठिया (Arthritis) किसे होती है?

Arthritis मुख्यता महिलाओं की अपेक्षा पुरूषों में ज्यादा होती है, इसके लक्षण आपको 30-35 उम्र वाले लोगो आसानी से देखने को मिलेगा। सामान्य शब्दों मे कहा जाए तो यह बीमारी युवा वर्ग में ज्यादा देखने को मिलती है। यदि समय से इसका इलाज किया जाए और जीवन शैली में सुधार किया जाए तो Arthritis की दर्द से बचा जा सकता है। यह खासतौर पर बारिश एवं सर्दियों के मौसम में अधिक होता है।

 

 गठिया (Arthritis) होने पर क्या करना चाहिए?

यदि आप Arthritis के दर्द से पीङित है तो निम्नलिखित बातो का ध्यान रखिए-

 

ठण्डी चीजों का परहेज करें

गठिया (Arthritis) होने पर ठण्डी चीजों का परहेज करना चाहिए, यदि आप Arthritis की दर्द से गुजर रहे है और अभी तक ठण्डी चीजों का परहेज नही किए है तो इससे आपको काफी तकलीफ हो सकती है। इस बीमारी में मरीज को फ्रीज में रखी हुई खट्टी दही या छांछ, कुल्फी, ice cream या ठण्डी जूस का सेवन बिल्कुल भी नही करना चाहिए।

 

Red Meat से परहेज करें

यदि आप अपने गठिया (Arthritis) के दर्द को ज्यादा नहीं बढाना चाहते है तो red meat का सेवन करना तुरंत छोङ दीजिए। क्योकि red meat में saturated fat काफी high होता है जो cholesterol का कारण भी बन सकता है जिससे Arthritis की दिक्कत बढ सकती है। Red meat के अलावा French fries या fried चीजों से भी दूरी बना कर रखने में भलाई होगी।

 

अखरोट से परहेज करें

यदि आप Arthritis (गठिया)  के मरीज है तो आपको अखरोट के सेवन का परहेज करना शुरू कर देना चाहिए। क्योकि अखरोट आपके शरीर में Uric Acid की मात्रा को बढा सकता है जो कि Arthritis के लिए काफी नुकसानदायक साबित होता है।

 

Rich protein चीजों से परहेज करें

गठिया (Arthritis) के समय protein से भरपूर चीजों का सेवन बंद कर दे अधिक protein वाले चीजे Arthritis के मरीजों के लिए नुकसानदायक होती है।

 

गठिया के रोगियों को क्या खाना चाहिए

 

बथुए का सेवन करे

यदि आप गठिया (Arthritis) से गुजर रहे है तो बथुए का इस्तेमाल जरूर करे। यह काफी फायदेमंद होता है। माना की यह सर्दी में अधिक मिलता है तो परेशान होने की बात नही है, सर्दी के मौसम में ही इसका सेवन अधिक करे।

 

अलसी के बीज का सेवन करे

गठिया के मरीजों को अलसी के बीज का सेवन जरूर करना चाहिए, क्योकि यह uric acid नियंत्रित करनें में काफी मददगार होता है। यदि आप Arthritis से जूँज रहे है तो रोज एक चम्मच अलसी के बीज का सेवन जरूर करे, इसे आप खाना खाने के बाद या फिर नाश्ते या खाने के बीज के समय में भी खा सकते है।

इसे भी पढें-   अंग्रेजी दवाइयों के साथ होम्योपैथी भी है कोरोना को मात देने में सहायक, डॉक्टर दे रहे सलाह

लहसुन का सेवन करे

गठिया (Arthritis) के मरीजो के लिए लहसुन भी काफी हद तक फायदेमंद साबित होता है। लहसुन में anti-inflammatory गुण होता है, जो सूजन को को कम करने में मदद करती है। इसलिए खाने में लहसुन का सेवन जरूर करे।

Arthritis एक ऐसी बीमारी है जिसमें बहुत दर्द होता है इसकी एक वजह खाना पीना भी है। Arthritis को ठीक करने के लिए थोङी सी सावधानी और खान हान में बदलाव कर

 

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *