बारहवी परीक्षा

बारहवी की परीक्षा रद्दः कैसे होगा बच्चो के भविष्य का निर्णय

कैरियर भारत

बारहवी की परीक्षा हर बच्चो के जीवन में एक अहम स्थान रखती है, लेकिन क्या कभी किसी ने भी यह सोचा है कि यदि बारहवी की परीक्षा न हो तो बच्चो का भविष्य फिर कैसा होगा? किसी ने भी अभी तक ऐसा कुछ नहीं सोचा होगा लेकिन इस कोरोना के समय में यह भी सोचना पङ रहा है। जी हाँ कोरोना के बढते और बिगङते हालात को देखते हुए सीबीएसई (CBSE) के साथ साथ अन्य राज्यों के बोर्ड ने भी बारहवी की परीक्षा रद्द करने का फैसला लिया है। कोरोना के वजह से जहाँ एक तरफ लोगो की जाने जा रही है, व्यवसाय में नुकसान हो रहा है तो वहीं दूसरी तरफ इसका असर बच्चो के पढाई पर भी देखने को मिल रहा है, खास तौर पर बारहवी के बच्चो पर। प्रधानमंत्री मोदी ने बारहवी की परीक्षा रद्द करने का फैसला कोरोना के बढते प्रकोप के वजह से लिया है, कोरोना के मामले तो धीरे धीरे घट रहे है लेकिन खतरा अभी भी मंडरा रहा है। प्रधानमंत्री के द्वारा लिए गये इस फैसले का स्वागत अन्य राज्यों के मुख्यमंत्रियों एवं बच्चो के अभिभावकों ने भी किया है।

ये भी पढें-  Career after 12th arts | 12वीं के बाद आर्ट्स में करियर | 12th Arts के बाद क्या करे

कितना महत्व रखता है बारहवी की परीक्षा?

दरअसल बारहवी की परीक्षा से ही बच्चो का भविष्य निर्भर करता है। क्योकि बारहवी के बाद ही बच्चे यह तय करते है कि उन्हे अब आगे किस क्षेत्र में जाना है जैसे कि मेडिकल, इंजिनियरिंग या फिर कॉलेज इत्यादि। कोरोना के दूसरे लहर के बाद दसवी की परीक्षा को तो रद्द कर दिया गया था, बारहवी की परीक्षा पर विचार विमर्श किया जा रहा था क्योंकि बारहवी के अंक पर ही बच्चो को कॉलेज में दाखिला मिलता है। इतना ही नही राज्य स्तरीय युनिवर्सिटी और इंटेरेन्स परिक्षायें जैसे कि JEE mains, JEE advance, NEET इत्यादि भी बारहवी के अंक के आधार पर ही एलिजिबिलिटी क्राइटेरिया निर्णय करते है। यह कहना गलत नही है की बारहवी की परीक्षा बच्चो के लिये वह स्तर है जिसे पार करने बाद वह अपने एक नये जीवन में प्रवेश करते है।

पिछले साल तो परीक्षा को बीच में ही रोकना पङा था और जितने पेपर हुए थे उन्ही के आधार पर बच्चों को अंक दिये गये थे लेकिन इस बार तो परीक्षा को पूरी तरह से ही रद्द कर दिया गया है। ऐसा बताया जा रहा है कि बच्चो को उनके पिछले परफॉर्मेंस के आधार पर अंक दिये जाएगे।

क्या परीक्षा रद्द करना ही एकमात्र उपाय था?

ऐसी तनावपूर्ण स्थिति में परीक्षा रद्द करना ही अच्छा उपाय है। कोरोना के केस भले ही अभी थोङा कम है लेकिन खतरा अभी भी बहुत है और ऐसे हालात में जहां एक तरफ ऑक्सीजन और वैकसीन की कमी देखने को मिल रही है वैसे में बच्चो को परीक्षा में बैठने के लिए मजबूर नही किया जा सकता है। जब से कोरोना का प्रकोप तेज हुआ है तब से बच्चे सिर्फ online classes पर ही निर्भर है। केवल theory ही नही practical भी बहुत महत्वपूर्ण होता है लेकिन practical की क्लास online कराना कठिन है। विज्ञान के बच्चो के लिए practical बहुत ही ज्यादा मायने रखती है और ऐसी स्थिति में यह सब संभव नही था।

ये भी पढें-  कम उम्र में सन्यास लेने वाले खिलाङी || Cricketers who retired early age

दरअसल बारहवी की परीक्षा को रद्द करने के लिए बार बार अपील की जा रही थी, कुछ बच्चे ट्विटर पर #cancelboardexams2021 ट्रेंड कर रहे थे और अपने ट्वीट में प्रधानमंत्री और शिक्षा मंत्री को भी टैग कर रहे थे। बारहवी की परीक्षा के रद्द होने पर बच्चो एवं उनके अभिभावको को काफी राहत मिली है। इस समय पूरा देश कोविड-19 से जूंझ रहा है कोरोना की दूसरा लहर अभी तक खत्म भी नही हुई है और तीसरी लहर के आने की भी बात चल रही है जो कि बच्चो के लिए खतरनाक मानी जा रही है ऐसे में बारहवी के परीक्षा को लेकर अभिभावक बहुत डरे हुए थे। कोरोना को बढने से रोकने के लिए ही और तीसरी लहर को देखते हुए सरकार ने बारहवी की परीक्षा को रद्द करने का फैसला लिया है। CBSE के बारहवी के परीक्षा रद्द करने के ऐलान के बाद धीरे धीरे कई राज्यों ने भी परीक्षा को रद्द करने का निर्णय ले लिया। यदि कोई छात्र अपने बेहतर परिणाम के लिए परीक्षा देना चाहेगा तो उसके लिए भी विकल्प दिया जाएगा। सरकार के द्वारा लिया गया बारहवी परीक्षा को रद्द करने के निर्णय से करीबन 14 लाख बच्चो को राहत मिली है। सरकार नें परीक्षा के रद्द करने के फैसले को लेकर कहा है कि हमारी प्राथमिकता अभी बच्चो की सुरक्षा है। बारहवी की परीक्षा रद्द होने के फैसले का सम्मान केवल बच्चे या अभिभावक ही नही बल्कि सभी राज्य भी कर रहे है।

Spread the love

34 thoughts on “बारहवी की परीक्षा रद्दः कैसे होगा बच्चो के भविष्य का निर्णय

  1. A fair system should be used to give students maximum possible percentage🙂 as we all know that how unfair it would be to judge only on the basis of any previous exams.

  2. Students who are bitching about board’s are either wannabe mature kids or they have only prepared for board’s
    Jee neet aspirants are the happiest now😂

  3. Student= paper july hmara kiya hoga
    Corona = cancel main tumara sath hu
    Student = 10 rupee ka parsaadd jai ho😂😂 like thoko dba ka

  4. Student who workhard for boards exam to secure 95%+ yunka ky hoga ….😭😭😭😭 Hamne sal Bhar padha Corona me bhi

  5. Yes yes board exam cancel hogaya yah hmm bach gaya mrna sa congratulations for +2 cbse studentYes yes board exam cancel hogaya yah hmm bach gaya mrna sa congratulations for +2 cbse student

  6. Thanks you sir Jo ap sab ne hum logo ke bare me soche thank you so much .. please all students ap sab vi batue ye sahi hua na ye hua na bat 😀😀😀 ap sab log yogi ji ko thanks boliye please 🙏🙏

  7. सारा ब्रह्मांड झुकता हैं जिनके शरण में,
    मेरा प्रणाम हैं उन
    श्रीरामजी के चरण में !!
    “जय श्रीराम”

  8. Narendra Modi ko salam karte hain Narendra Modi Ne bahut Achcha Faisla liya hai thanks Modi ji

  9. Phele me bhot dhuki tha lekin mausi ne kha aaj ki news dheko lekin ab mausi muje dhuki hai

  10. 12th Exam cancelled :
    अरे कितने ऐसे रिश्तेदार है कि जिन की आखरी इच्छा है कि तुम्हारे रिज़ल्ट सुन कर तुम्हें ताने सुनाए, अब वो क्या करे, उम्मीद छोड़ दें! 😄😄

  11. Modi ji state board also have students
    They also face mental panic pls pls do justice 🙏🙏

  12. Abb dekho kaise react kr rahe hain pehle kehte v cancel kro ab jbb cancel ho gye to yeh dikha rahe hain jaise sb kuch atta tha.

  13. Perform krne ka moka? Seriously? Itne salo se kya kr rhe they? Jinhe performance ki pdi rhti hai wo ye nhi dekhte ki nursery hai ya 12th… Agr exams hote or uski chkkr me agr ek bhi student ki death hojati to kya hota? Or tum kh rhe ho ki jo pdhta hai or jo nhi pdhta uske beech me difference zaruur hona chahiye lekin situation ko to dekho .. dusro se nhi apne aap se mtlb rkho q ki future me bhot chance milenge performance dikhane ke liye.
    Thanks for understanding.

  14. The best decision is ke 10, 11 ,12 ka best result pr result banaya jaye nahi to further admission dikat ayegi aur wase bhe 11 ko bache bhot lightly lete hai to agr vo kewal 11, 12 ko consider krwnge to to humare dreams kbhi pirre nahi honge…excessive depressed😭😭😭😭😭

  15. Result pta nahin kaise banega agar 10me 75parsent ho to miane 12me 90parsent tak pda hai agar muje Kam number mile to. Iit kaise karunga or ye mere Sapna hai….

  16. University students ko Bhi promote kare kyunki hum Bhi bacche hai aur humare ander Bhi jann hoti hai ….please cancel university exams …🙏🙇🙇🙇🙏😭😭😭😭😭😭😭😭

  17. जिस देश मे पेपर रद्द होने पर ख़ुशी और विदेशी गेम बैन होने पर गम बनाया जाता हे उस देश का भविष्य हम देख सकते है। 😐😰

  18. ❤🚩🚩 12 th की परीक्षा रद्द होने के बाद, पप्पू एक “Tool Kit” बनाएगा, कि ” ये बच्चे IIT और JEE, NEET परीक्षा कैसे देंगे?? पप्पू का “दिमाग खुरापाती” है।। 😝😝😝😝🚩🚩❤

  19. Please 3 years k basis pr result declear na kre only 12th k basis pr hii result declear kre 12th k practicle, assignments, test Preboard, discipline etc..

  20. Vote cancel kiu nhi kiya modi ji ne hamra exam kiu hm log mehnat kya Itna padha exam dene ke liye please🙏🙏 exam cancel mat kro

  21. Many students background including mines, my father have heart disease im not afraid of exams but im afraid of our family’s health. There are no precautions over here. If u can’t cancel kindly atleast try to make it online. Life is more importaint ❤️.

  22. दुनियाँ के लिए आप एक व्यक्ति हैं।
    लेकिन परिवार के लिए आप पूरी दुनियाँ हैं।
    इसलिए आप अपना ख्याल रखें.😔🙏

  23. जरूरी भी था क्योंकि यही बच्चे अब वोट भी देंगे 😂😂 इनका वोटर आईडी कार्ड भी बनवा दीजिए यूपी में चुनाव आने वाले है ।
    और एक विनती है आप से बंगाल से 75 लाख नौकरी अब यूपी में शिफ्ट करदे क्योंकि वहां तोह दाल गली नहीं आपकी😂😂😂

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *