कम उम्र में शादी होने से लेकर देश की फेम्स फिटनेस ट्रेनर बनने तक का सफर जैस्मिन के लिए नहीं था आसान, जाने संघर्ष की पूरी कहानी

हम महिला सशक्तिकरण को लेकर ना जाने कितने महिला दिवस (Womens Day) मना ले, उनके मान सम्मान (Respect) की बात क्यों ही ना कर लें, पर बहुत सी महिलाएं आज भी है जो घरेलू हिंसा (Domestic Violence) और बलात्कार (Rape) का शिकार हो रही हैं। देश में कई ऐसी जगहें है जहां घरेलू हिंसा को कोई अपराध (Crime) मानना ही नहीं चाहता है। कुछ जगह तो हर दिन महिलाओं के साथ घरेलू हिंसा होती है और वह इसे अपने दिनचर्या (Daily Routine) मान कर स्वीकार (Accept) भी कर लेती हैं।  लेकिन जिस कहानी के बारे में हम आपको बताने जा रहे हैं वह एक ऐसी औरत की कहानी है जिसने घरेलू हिंसा और बलात्कार दोनों के खिलाफ अपनी आवाज उठाते हुए और अपने हौसलों के दम पर दुनिया को चौंका कर रख दिया है। एक लड़की जो पहले गुमनाम थी जिसके साथ रेप (Rape) किया गया और जो घरेलू हिंसा का भी शिकार हुई, वही लड़की आज देश भर में फिटनेस ट्रेनर (Fitness Trainer) के तौर पर पहचानी जाती है। हम जिस लड़की के बारे में बात करने जा रहे हैं वह केरल (Kerala) के कलीकट (Calicut) की रहने वाली है, जो एक रूढ़िवादी मुस्लिम परिवार (Orthodox Muslim Family) से वास्ता रखती है। वह अब देश भर में एक दमदार फिटनेस ट्रेनर (Fitness Trainer) के रूप में मशहूर (Famous) हो चुकी है।

इसे भी पढें-  अजब गजब! इस महिला ने प्रेग्नेंट होने के बावजूद दोबारा किया गर्भधारण, बनी जुड़वां बच्चों की मां

जैस्मिन ने खुद बयां की अपने संघर्ष की कहानी

एक गुमनाम लड़की से देश की दमदार फिटनेस ट्रेनर बनने का सफर उस लड़की के लिए इतना आसान भी नहीं रहा है। उसके इस सफर के पीछे कई संघर्ष (Struggle) और दर्द छुपे हुए हैं, जिसके बारे में कोई नहीं जानता है। अपनी संघर्षों से भरी कहानी सुनाने वाली कोई और नहीं बल्कि जैस्मिन मूसा (Jasmine Moosa) खुद है, जिन्होंने सोशल मीडिया (Social Media) के जरिए अपने घरेलू हिंसा और मैरिटल रेप (Marital Rape) के बारे में लोगों को बताया, इसके साथ ही उन्होंने इन सब के खिलाफ आवाज उठा कर छोटी-मोटी नौकरी कर एक फिटनेस ट्रेनर बनने की कहानी लोगों के साथ साझा की है। जैस्मिन मूसा (Jasmine Moosa) मुक्कम जैसे एक छोटे से गांव की रहने वाली है, जिनका जन्म एक रूढ़िवादी मुस्लिम परिवार में हुआ था। इस लड़की ने अपनी उम्र से ज्यादा तो दुख झेल लिए थे। वह काफी अकेली पड़ गई थी जब उन्होंने अपने परिवार को त्याग दिया था, लेकिन आज वो दिन है जब वही घर से भागी हुई लड़की के जज्बे को हर कोई सलाम कर रहा है।

जैस्मिन 17 साल की उम्र में बन गई थी दुल्हन

बता दें कि सिर्फ 17 साल की उम्र में जैस्मिन का निकाह (Marriage) हो गया था। स्कूल से लौटी हुई एक 17 साल की बच्ची के हाथ में उसकी मां ने चाय की ट्रै थमा दी और उसे मेहमानों के सामने खड़ा कर दिया। जैस्मिन को देखने के कुछ समय बाद ही उसकी शादी कर दी गई। जिससे जैस्मिन की शादी हुई थी उसने उसके साथ काफी मारपीट (Violence) की। जैस्मिन आए दिन घरेलू हिंसा का शिकार होती थी। जैस्मिन बताती है कि मुझे उसी वक्त समझ आ गया था कि मेरा पति घटिया इंसान है, जब वह शादी की रात बेडरूम में आया था, मेरी इच्छा के खिलाफ जाकर उसने मेरे साथ जबरदस्ती शारीरिक संबंध (Physical Relations) बनाए थे। मैं अपनी पूरी ताकत से उस रात चिल्लाई (Scream) थी लेकिन किसी ने मेरी आवाज नहीं सुनी। क्योंकि हम एक ऐसा परिवार का हिस्सा है जहां यह बातें सामान्य होती है। कम उम्र में ही ज्यादात्तर लड़कियों की शादी कर दी जाती है, तो ऐसी परिस्थितियों में शादी की पहली रात उनका चिल्ला बहुत लाजमी माना जाता है। जैस्मिन आगे बताती है कि मेरा पति जरा भी अच्छा इंसान नहीं था, जिस वजह से मुझे रिश्ता निभाने में काफी समस्या हो रही थी। शादी के 1 साल बाद ही मैंने उसे तलाक (Divorce) लेने का फैसला ले लिया, जिसमें मेरे परिवार ने मेरा साथ दिया, लेकिन तलाक के बाद भी मेरी मुश्किलें कम नहीं हुई।

समाज ने जैस्मिन का किया था तिरस्कार, दे दिया था ‘तलाकशुदा का टैग’

समाज (Society) ने मुझे तलाकशुदा औरत (Divorcee Women) का टैग दे दिया था। मेरा अपने ही घर में जीना मुश्किल हो गया था, इसके साथ ही मेरे घरवालों को मैं बोझ लगने लगी थी। मेरे माता पिता चाहते थे कि मेरी किसी से भी जल्दी शादी कर दी जाए जिस पर मैंने अपने परिवार से साफ कह दिया था कि अगर आप मेरी दूसरी शादी कराना चाहते हैं तो उससे पहले मैं लड़के से मिलूंगी, बात करूंगी, उसके बाद आगे का फैसला लूंगी। जिस पर वह मान गए थे, जिसके बाद जैस्मिन एक लड़के से मिली। जैस्मिन (Jasmine Moosa) ने अपने पास्ट के बारे में उस लड़के को सब बता दिया था, शुरुआती दौर में तो वह लड़का जैस्मिन को अपनाने के लिए तैयार था और वह जैस्मिन को भी सही लगा। कुछ समय बाद दोनों की शादी हो गई। शादी से सभी खुश थे लेकिन लड़के ने शादी की रात ही अपना असली चेहरा जैस्मिन को दिखा दिया।

जैस्मिन ने पति ने उसके गर्भ पर मार दी थी लात

जैस्मिन के साथ शादी की रात उसने बहुत मारपीट (Violence) की और उसका कई बार रेप (Rape) भी किया। अपने पति के साथ कुछ दिन बिताने के बाद उसे पता चला कि उसका पति नशा (Drug Addicted) करता है, वो चरस, गांजा और अफीम की लत में डूबा रहता है। वह नशा करके जैस्मिन के साथ जबरदस्ती शारीरिक संबंध (Forceful Physical Relation) बनाता था और उसके साथ मारपीट भी करता था। बीते हुए सालों के साथ जैस्मिन की जिंदगी और नर्क (Hell) बनती जा रही थी। कुछ समय बाद जास्मिन प्रेग्नेंट (Pregnant) हुई जिसकी खुशी खबर उसने अपने पति को दी, लेकिन जैस्मिन के मां बनने की बात सुनकर उसका पति भड़क गया और उसने जोर से उसके पेट पर लात मार दी।

जैस्मिन के जीवन में नए अध्याय की हुई शुुरुआत

जिसके बाद जैस्मिन को ब्लीडिंग (Bleeding) होने लगी और उसकी मां द्वारा उसे तुरंत अस्पताल में भर्ती  कराया गया। इलाज के दौरान जैस्मिन तो बच गई लेकिन उसके बच्चे को डॉक्टर नहीं बचा सके। यह घटना होने के बाद जैस्मिन ने अपने पति के खिलाफ डॉमेस्टिक वायलेंस का केस (Domestic Violence Case) दर्ज करवाया। जिसके बाद पुलिस ने जांच करने के बाद उसके पति को जेल में डाल दिया। जैस्मिन बताती है कि वो दोबारा अपने घर आ गई, लेकिन फिर से उसका अपने ही घर में रहना मुश्किल हो गया, तो वह वहां से कोच्चि (Kochi) चली गई। जैस्मिन ने छोटी मोटी नौकरियां करके अपना गुजारा किया, जैस्मिन कभी कॉफी शॉप (Coffee Shop) में काम करती थी तो कभी रेस्टोरेंट (Restaurant) में। कुछ समय बाद जैस्मिन ने कोच्चि (Kochi) के ही एक फिटनेस सेंटर (Fitness Center) में रिसेप्शनिस्ट के तौर पर नौकरी (Job) की और यहीं से उसकी नई जिंदगी की शुरुआत हुई। जैस्मिन जिम (Gym) जाने लग गई और उसकी जिंदगी में काफी बदलाव आ गए।

इसे भी पढें-  हौसले के आगे झुकी दुनिया, देश की सबसे छोटे कद की वकील हरविंदर कौर की हो रही चर्चा

कई लड़कियों के लिए प्रेरणा से कम नहीं है जैस्मिन 

जिम (Gym) में जैस्मिन को कई लोगों ने सपोर्ट किय़ा। जिम से जैस्मिन को फिटनेस ट्रेनर (Fitness Trainer) बनने की प्रेरणा (Inspiration) मिली। अब जैस्मिन लोगों को ट्रेनिंग देने लगी है। जैस्मिन के मेकओवर (Make Over) का एक वीडियो भी सोशल मीडिया पर बहुत वायरल (Viral) हुआ। अपने फेमस होने के बाद जैस्मिन का कहना है कि मेरे पास अब एक नौकरी है, मेरी खुद की पहचान है और हर दिन मुझे प्यार करने और सपोर्ट करने वाले लोग मौजूद हैं। अगर मैं अपने दम पर चीजों को ठीक करने के बारे में नहीं सोचती तो शायद अभी मैं मर चुकी होती। जैस्मिन आज के टाइम में बेंगलुरु (Bengaluru) के एक बहुत ही प्रतिष्ठित केंद्र (Famous Fitness Center) में फिटनेस ट्रेनर का काम कर रही हैं। जैस्मिन उन लड़कियों के लिए प्रेरणा का स्त्रोत है जो हालातों से हार मान जाती है। जैस्मिन हमें यह सिखाती है कि ना जाने हमारे सामने कितनी भी मुश्किलें क्यों ना आ जाए, हमारे पैर कितनी भी बार क्यों ना लड़खड़ा जाए फिर भी हमें कभी हार नहीं मानना चाहिए और हालातों का डटकर सामना करना चाहिए।

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *