Coronavirus Covid 19: कोरोना के ईलाज का सही तरीका || Best medicine for coronavirus

कोरोना कोविड 19 (Coronavirus Covid 19) चीन से चलकर आज वैश्विक बीमारी बन चुकी है। आज पूरा विश्व इस बीमारी का ईलाज(Corona ka ilaj), दवा खोज रहा है परन्तु कोई भी देश इसका ईलाज नही खोज पाया है। इसलिए इस Coronavirus बीमारी से बचने के लिए तरह तरह के उपाय (Corona ka ilaj) कर रहा है। जैसे- मुँह पर मास्क पहनना, बार बार हाथों को धोना, लोंगो से एक मीटर की दूरी बनाये रखना और सबसे बडा बचाब है लॉक डाऊन। न व्यक्ति किसी के सम्पर्क में आयगा और न यह वायरस फैलेगा। लेकिन क्या इन उपायों (Corona ka ilaj) से फायदा हो रहा है ? क्या इन उपायो से करोना (Coronavirus) खत्म हो रहा है? जबाब है नही इन उपायों से कोरोना वायरस तो खत्म नही हो रहा परन्तु हॉ कोरोना के फैलने की स्पीड पर जरूर रोक लगा दी है। परन्तु कोरोना पोजोटिव मरीज तो फिर भी बढ रहे है कारण करोना वायरस (Coronavirus) खत्म नही हो रहा है। अमेरिका, स्पेन, इटली, जर्मनी, फॉस में तो इस बीमारी ने हहाकार मचा रखा है। इन देशो में कोरोना मरीजो की संख्या लाखों में है जिस कारण यहॉ के नागरिको के मन में डर और सरकार दहशत में है। कहीं कोरोना के कारण पूरे पूरे देश ही खत्म न हो जाये।

भारत ऋषि मुनियों का देश है। धर्म और भक्तों की रक्षा के लिए समय समय पर भगवान स्वयं अवतार लेकर इस पावन धरती आते रहे है। पूरे विश्व में केवल भारत ही एक मात्र ऐसा देश है जिसके वेदो, पुराणों एवं अन्य ग्रंथो में पूरी सृष्टी के बारे में लिखा है। कि कैसे सृष्टी की रचना हुई, कैसे सृष्टी का विनाश होगा, सृष्टी कैसे चल रही है, सृष्टी में कौन कौन उपस्थित है आदि अनेको सत्यों को बताया है। हमारे पुराणों में हजारों साल पहले ही इस महामारी के बारे में लिख दिया है।

हमारे ग्रंथो में लिखा है कि किस तरह से मनुष्य को जीवन यापन करना चाहिए जिससे मनुष्य निरोग प्रसन्न जीवन जी सके परन्तु विडवना देखिये भारत के पास सबकुछ होते हुए भारतवासी अपने जीवन उद्देश्य से भटक कर पश्चिमी लोगो की होड करते हुए अपनी भारतीय संस्कृती छोडकर विदेशी सभ्यता अपनाने लगे है और इसी कारण विदेशी समस्यायें जैसे बीमारी, नाकात्मक ऊर्जायें आदि भी भारत आने लगी है।

Coronavirus- Corona Ka ilaj

कोरोना वायरस (Coronavirus Covid 19) को खत्म करने के लिए हमें सरकार द्वारा बताये उपायों के साथ साथ निम्नलिखित चार कार्य भी करने होंगे।

  1. अपने घर का वातावरण और घर के बाहर पर्यावरण शुद्ध करने के लिए रोज हवन करें अगर हवन न कर सकें तो सूर्योदय और सूर्यास्त के समय अग्निहोत अवश्य करें। प्रभु दर्शन ऐप में देखकर। (मोबाईल में प्रभु दर्शन ऐप डाऊनलोड करें। ऐप को खोलें। दैनिक पूजन विधि पर क्लिक करें। हवन विधि और अग्निहोत पर क्लिक करके लिखित विधि का प्रयोग करें।)
  2. शरीर को स्वस्थ रखने के लिए योग और प्राणायाम।
  3. डर और मानसिक रोगो से बचाव के लिए मेडीटेशन और ईष्ट का भावपूर्वक मंत्र जाप करें।
  4. अपनी सोच को हमेशा सकारात्मक रखें।

100 से अधिक आरतीयाँचालीसायें, दैनिक नित्य कर्म विधि जैसे- प्रातः स्मरण मंत्र, शौच विधि, दातुन विधि, स्नान विधि, दैनिक पूजा विधि, त्यौहार पूजन विधि आदि, आराध्य देवी-देवतओ की स्तुति, मंत्र और पूजा विधि, सम्पूर्ण दुर्गासप्तशती, गीता का सार, व्रत कथायें एवं व्रत विधि, हिंदू पंचांग पर आधारित तिथियों, व्रत-त्योहारों जैसे हिंदू धर्म-कर्म की जानकारियों के लिए अभी डाउनलोड करें प्रभु दर्शन ऐप।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *