Surya Grahan: सूर्य ग्रहण और चन्द्र ग्रहण में क्या करें और क्या ना करें What to do in solar eclipse 20

सूर्य ग्रहण के दौरान सूर्य से नकारात्‍मक ऊर्जा निकलती है और सीधे पृथ्‍वी पर आती हैं। इसलिए इस समय केवल गुरुमंत्र, ईष्टमंत्र अथवा भगवन्नाम जप और ध्यान करने की ही अनुमति होती है।

Read more

Jyotish good habits and bad habits || जानिए किन आदतों से ग्रह खराब होते है और अपने शुभ फलों में कमी करते हैं

इन आदतों से में ग्रह दूषित होते है उन आदतों से कैसे बचें :- Jyotish good habits and bad habits:

Read more

Srishti Ki Rachna: आग्नेय पुराण के अनुसार सृष्टि की रचना का वर्णन

श्री हरि ही स्वर्ग आदि के रचयिता हैं। सृष्टि और प्रलय आदि उन्हीं के स्वरुप हैं। सृष्टि के आदि कारण भी वे ही हैं। वे ही निर्गुण हैं और वे ही सगुण हैं।

Read more

Remember 4 Jyotish bad habits always: ज्योतिष के अनुसार कौन कौन सी आदतें बुरी होती हैं

1. कहीं भी थूकना नहीं चाहिए : यदि आपको कभी भी थूकते रहने की आदत है तो आप यह मान लें कि आपका यश, सम्मान और आपकी प्रतिष्ठा ज्यादा समय तक टिकने वाली नहीं है।

Read more

Coronavirus Covid 19: कोरोना के ईलाज का सही तरीका || Best medicine for coronavirus

कोरोना कोविड 19 (Coronavirus Covid 19) चीन से चलकर आज वैश्विक बीमारी बन चुकी है। आज पूरा विश्व इस बीमारी

Read more

Hanuman Ashta Sidhi Nav Nidhi ke data || हनुमान जी की अष्ट सिद्धियाँ और नौ निधियों का वर्णन

आप सभी ने हनुमान चालीसा में एक चौपाई पढ़ी होगी – “अष्ट सिद्धि नव निधि के दाता” “Ashta Sidhi Nav Nidhi ke data”। इसका अर्थ ये है कि हनुमान जी आठ प्रकार की सिद्धि और नौ प्रकार की निधियों को प्रदान करने वाले हैं।

Read more

Bakrid : बकरीद क्यों मनाई जाती है, क्यों होती है बकरे की कुर्बानी। Bakrid Qurbani

इस्लामिक मान्यता के अनुसार हज़रत इब्राहिम अपने पुत्र हज़रत इस्माइल को इसी दिन खुदा के हुक्म पर खुदा कि राह में कुर्बान करने जा रहे थे, तो अल्लाह ने उनके पुत्र को जीवनदान दे दिया जिसकी याद में बकरीद मनायी जाती है।

Read more

कौन है मनुष्य? उसका जन्म क्यो हुआ? मनुष्य, जीवन और उद्धार पार्ट- 1

शरीर के अन्दर जब आत्मा प्रवेश करती है तब ही मनुष्य का जन्म होता है। आसान शब्दो में कहे तो शरीर और आत्मा के मिलने से मनुष्य बनता है। “मै” आत्मा है।

Read more

Shiv Pujan Vidhi | महा शिवरात्रि पूजन की सरलतम विधि | सोमवार शिव पूजा विधि

यदि कोई मनुष्य सच्ची श्रद्धा भक्ति से शिवलिंग पर सिर्फ एक लोटा पानी भी अर्पित करे तो भी शिवजी प्रसन्न हो जाते हैं। इनकी भक्ति करने वाले व्यक्ति को संसार की सभी वस्तुएं प्राप्त हो जाती हैं।

Read more

Shiva Tandava Stotram। शिव तांडव स्तोत्र कब, कहॉ और कैसे होगा विशेष लाभ। शिव तांडव स्तोत्र अर्थ सहित

शिव तांडव स्तोत्र अर्थ सहित। आर्थिक समस्या से भी उबरने के लिए शिव तांडव का पाठ करना शुभ साबित होता है। जीवन में विशेष उपलब्धि पाने के लिए भी शिव तांडव स्तोत्र रामबाण का काम करता है। जब बुरे ग्रह के दोष से मुक्ति पाने के शिव तांडव का पाठ करना अत्यधिक लाभकारी होता है।

Read more

sawan somvar vrat puja vidhi in hindi – सावन के महिने में इस पूजन से महादेव होगें प्रसन्न

सोमवार के व्रत का पूजन करने से पहले भगवान श्री गणेश जी का सर्वप्रथम पूजन करना चाहिए। इसके बाद भगवान शिव जी, माता पार्वती व नन्दी देव की पूजा करनी चाहिए।

Read more