Aloe Vera Business: क्या आप जानते है गुणों से युक्त एलोवेरा कर सकता है आपके ऊपर पैसों की बारिश, इसका बिजनेस देता है लाखों का फायदा

हर इंसान जीवन में एक ना एक बार तो बिजनेस करने का ख्याल अपने मन में लाता ही है, बल्कि कई लोग तो अपनी नौकरी छोड़ बिजनेस करने का सपना देखते है, दुनिया भर से ऐसे कई किस्से सुन्ने में आ जाते है जिसमें लोग अपने लाखों के पैकेज की नौकरियां छोड़ बिजनेस की ओर अपना कदम बड़ा रहे होते है। वही एलोवेरा के भी काफी फायदे होते हैं। एलोवेरा इंसान के लिए संजीवनी बूटी से कम नहीं होती है। एलोवेरा (Aloe vera) से न सिर्फ त्वचा रोग खत्म होते हैं, बल्कि यह पेट में कब्ज से राहत देने के साथ-साथ शरीर में ताकत और स्पूर्ति को भी भरपूर बनाए रखता है। आप सोच रहे होंगे कि यह बिजनेस की चर्चा करते करते एकदम से हम आपको एलोवेरा के बारे में कैसे बताने लग गए।

एलोवेरा का बिजनेस देगा लाखों का फायदा (Aloe vera business and profit)

दरअसल बात यह है कि जो एलोवेरा मनुष्य के जीवन के लिए संजीवनी बूटी से कम नहीं, वहीं एलोवेरा आपके लिए मोटी कमाई का साधन भी बन सकता है। जी हां, एलोवेरा की खेती करने से आप मालामाल हो सकते हैं। एलोवेरा की खेती करने से कम लागत में आपको काफी प्रॉफिट होता है। गौरतलब है कि एलोवेरा में औषधीय गुण होने के चलते इसकी डिमांड ना सिर्फ भारत में बल्कि विदेशों तक है। बीते कुछ सालों में एलोवेरा की मांग में काफी इजाफा दर्ज किया गया है। ना सिर्फ खूबसूरती के पदार्थों में बल्कि खाने-पीने के आइटम में भी इसका काफी इस्तेमाल किया जा रहा है। आज के इस अधुनिक युग में हर कोई जानता है कि एलोवेरा कई गुणों का राजा है।

एलोवेरा के बिजनेस में लगता है कम निवेश, मिलता है ज्यादा प्रोफिट

आपको बता दें कि भारत में एलोवेरा की खेती बड़े पैमाने पर हो रही है। देश की मल्टीनेशनल कंपनियों से लेकर लघु उद्योगों तक एलोवेरा के प्रोडक्ट्स बनाकर और उसे बेचकर करोड़ों का धंधा कर रहे हैं। इन कंपनियों में एलोवेरा की डिमांड लगातार बनी रहती है , यदि आप एलोवेरा की खेती करते हैं और इन कंपनियों को इसकी सप्लाई करते हैं तो आप लाखों की कमाई आसानी से कर सकते हैं। यदि आप एलोवेरा के बिजनेस में हाथ आजमाने का सोच रहे हैं तो इस व्यापार को आप दो तरह से कर सकते हैं। एक तो इसकी खेती की जा सकती है या फिर इसके जूस या पाउडर को निकालने के लिए मशीन लगाई जा सकती है। इन दोनों ही बिजनेस को करने से कम खर्च में अच्छे मार्जिन पर लाभ मिलता है।

इसे भी पढें-   गजब! पार्ट टाइम शुरु की गई खेती सरकारी शिक्षक को दे रही लाखों का फायदा

दो प्रकार से किया जा सकता है एलोवेरा का बिजनेस (Two type of aloe vera business)

यदि आप एलोवेरा के बिजनेस में कदम रखते हुए एलोवेरा की खेती करना चाहते हैं तो मात्र 50 हजार रुपए में आप इसकी शुरुआत कर सकते हैं। आप मंडियों और मैन्युफैक्चरिंग कंपनियों को एलोवेरा भेज सकते हैं। इसके साथ ही अगर आप एलोवेरा से और मुनाफा कमाना चाहते हैं तो एलोवेरा की प्रोसेसिंग यूनिट भी लगाई जा सकती है। एलोवेरा की प्रोसेसिंग यूनिट किस तरह लगाई जा सकती है, इसके बारे में हम आपको संक्षिप्त में बताते हैं। एलोवेरा की प्रोसेसिंग यूनिट लगाने के लिए आपको कम से कम 3 से 5 लाख रुपए तक खर्च करने पड़ेंगे। वही आप एलोवेरा प्रोसेसिंग यूनिट से एलोवेरा का जेल और जूस बेच कर अच्छी खासी कमाई कर सकते हैं।

सालों से आयुर्वेद और यूनानी चिकित्सा ले रहे एलोवेरा के औषधिय गुण का फायदा

वहीं एलोवेरा की खेती करने के लिए प्लांट, मटेरियल, लेबर, खाद्य, पैकेजिंग, हार्वेस्टिंग इन सब का खर्च होगा। देश के कई ऐसे हिस्से हैं जहां एलोवेरा प्लांट एक बार लगा कर 3 साल तक उससे उत्पादन बनाया जा रहा है। वही कई जगहों पर इसकी फसल 5 सालों तक होती है। एलोवेरा की खेती में आपको कम से कम 50 से 60 हजार तक का निवेश करना होगा जो कि आपको पांच से छह लाख तक का मुनाफा देगा। इसके साथ ही आप एलोवेरा से कम खर्च में साबुन, हैंडवाश का बिजनेस भी शुरू कर सकते हैं। बता दें कि एलोवेरा की डिमांड मेडिकल, फार्मास्यूटिकल कॉस्मेटिक की फील्ड में अत्यधिक देखने को मिलती है। देश के लोगों में एलोवेरा लोशन, एलोवेरा जूस, एलोवेरा क्रीम, एलोवेरा जेल, एलोवेरा शैंपू इन सभी चीजों की डिमांड है। गौरतलब है कि यूनानी चिकित्सा और आयुर्वेद में कई सालों से एलोवेरा का औषधीय तौर पर इस्तेमाल किया जा रहा है।

इसे भी पढें-  काली मिर्च की खेती ने इस किसान को ना सिर्फ किया मालामाल, बल्कि दिलाया पद्मश्री सम्मान

आइये जानते है किस-किस काम आता है एलोवेरा

एलोवेरा के कई फायदे होते हैं, जिसमें से एक फायदा कब्ज से राहत दिलाने को भी माना जाता है। दरअसल एलोवेरा में लैक्सेटिव गुण पाया जाता है, जो पेट साफ रखने और कब्ज से राहत दिलाने में बहुत फायदेमंद होता है। जब कभी भी आपको कब्ज या पेट की कोई समस्या महसूस हो, तो एलोवेरा का जूस का सेवन अवश्य करें, इससे आपको बहुत जल्दी राहत मिलेगी।

• कब्ज के बाद डायबिटीज पेशेंट को भी एलोवेरा से काफी फायदा होता है। एलोवेरा में anti-diabetic गुण पाए जाते हैं, जो ब्लड शुगर के लेवल को कंट्रोल करने में मददगार होता है।

• वहीं मोटापा से निजात पाने के लिए भी एलोवेरा का उपयोग किया जाता है। ऐसा माना जाता है कि एलोवेरा में anti-obesity गुण पाए जाते हैं, जो कि मोटापे को कंट्रोल में रखता है, तो यदि आप वजन कम करने का सोच रहे हैं तो एलोवेरा का सेवन जरूर करें।

• अगर आप शरीर में सूजन की समस्या से जूझ रहे हैं तो उस वक्त एलोवेरा का इस्तेमाल करना ना भूलें। एंटीऑक्सीडेंट और एंटी इन्फ्लेमेटरी गुण एलोवेरा में भरपूर पाया जाता हैं, जो शरीर की सूजन कम करने में बहुत उपयोगी माना जाता है।

• वहीं जो लोग स्किन से रिलेटेड समस्या से जूझ रहे हैं, उनके लिए एलोवेरा संजीवनी बूटी से कम नहीं है। एलोवेरा का इस्तेमाल करने से पिंपल से निजात मिलती है, वहीं कई मॉइश्चराइजिंग कॉस्मेटिक पदार्थों में भी एलोवेरा का इस्तेमाल किया जाता है। स्किन को मॉइश्चराइज करने के लिए एलोवेरा काफी उपयोगी है। एलोवेरा में एंटीफंगल गुण पाए जाते हैं जो स्किन को फंगल इंफेक्शन से भी निजात दिलाता है।

• वहीं गर्मी का मौसम शुरू हो गया है, इस मौसम में त्वचा से संबंधित होने वाली परेशानियों को भी एलोवेरा ठीक करता है। खास बात यह है कि एलोवेरा सभी प्रकार की स्किन के अनुकूल होता है, जिससे त्वचा सूखी हो या रूखी एलोवेरा हर तरह की स्किन के लिए फायदेमंद होता है। इसके साथ ही एलोवेरा के अंदर हाइड्रेटिंग और मॉइश्चराइजिंग गुण पाए जाते हैं। सनस्क्रीन के साथ अगर एलोवेरा का इस्तेमाल किया जाए तो इससे ड्राई स्किन को हाइड्रेट करने के साथ ही वह सूरज के हानिकारक प्रभावों से भी बचाता है।

• ऐसा माना जाता है कि अगर कोई सर में दर्द की समस्या से जूझ रहा है तो एलोवेरा के रस में थोड़ी सी हल्दी मिलाकर उसे सर में लगाने से सिर दर्द में काफी आराम मिलता है। वही एलोवेरा जेल या इसके रस को मेहंदी में मिलाकर अगर बालों में लगाया जाए तो इससे बाल हेल्दी होते हैं और उनकी चमक बढ़ती है।

• यदि एसिडिटी की वजह से आपको हार्ट बर्न यानि कि पेट और सीने में जलन की समस्या उत्पन्न होती हो तो इससे निजात पाने के लिए एलोवेरा काफी मददगार साबित होता है। एलोवेरा के जूस में जो कंपाउंड मौजूद होते हैं वो पेट में एसिड सीक्रिशन को कंट्रोल करता है, जिससे हार्टबर्न से निजात पाने में काफी मदद मिलती है। इसके साथ ही जब हमारी बॉडी से डिटॉक्स प्रोडक्ट को साफ करने की बात आती है तो सबसे पहले लिवर का ख्याल आता है। एलोवेरा जूस में वह गुण पाए जाते हैं जो लीवर को हेल्दी रखने में काफी मदद करता है। एलोवेरा के जूस में फाइटोन्यूट्रिएंट्स होते है, जो लीवर के लिए बहुत फायदेमंद होते है।

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *